इंडिया के अधिकतर जिगोलों को clients क्यों नहीं मिलते English

नीचे खरगोश और गाजर देख रहे हो? कल्पना कीजिए के खरगोश महिला ग्राहक है और गाजर पुरुष. उन गाजरों में एक आप हो. क्या आपको लगता है उस महिला को एक पुरुष मिलना मुश्किल हैं? बिलकुल नहीं. पुरुषों के ढेर पड़े हैं. जहाँ देखो गाजर ही गाजर हैं. लाखों पुरुषों की उम्मीद हैं के महिला उनको चुने. महिला किसी को भी चुन सकती है, तो आप को क्यों चुने? आप में क्या विशेषता है जो दुसरे गाजरों में नहीं? और जब लाखों गाजर मुफ्त में उपलब्ध हैं तो महिला किसी को पैसे क्यों दे? शायद आप कहेंगे के आप दूसरों से अलग हो क्यों के आप एक जिगोलो हो. अरे भाई, इंटरनेट पे देखो, जिगोलो के ढेर पड़े हैं. फेसबुक, व्हाट्सप्प, ट्विटर, क्लासिफाइड साइट, इंस्टाग्राम, पिनटेरेस्ट ....जहाँ देखो वहां जिगोलो अपने पब्लिसिटी कर रहे हैं. हज़ारों जिगोलो मुफ्त में काम करने केलिए तैयार हैं. फिर भी महिला उन्हें नहीं चुनती. क्यों? इसके बारे में ज़रा सोचिये. मेरे मुफ्त के email पड़ते रहे और आप अंततः समझ जायेंगे. वैसे अगर आपको जिगोलो बनने में कोई दिलचस्पी न भी हो, मेरे मुफ्त के सलाह पड़ने से आप उस तरह के आदमी बन जायेंगे जिसका हर महिला को बेसब्री से तलाश हैं

 

#

Subscribe for free gigolo tips and training announcements

Get posts emailed to you. No spam. Delivered by Feedburner (a Google company)